Baba Ramdev Aarti Lyrics बाबा रामदेव जी की आरती

Baba Ramdev Aarti Lyrics बाबा रामदेव जी की आरती
Baba Ramdev Aarti Lyrics बाबा रामदेव जी की आरती

Baba Ramdev Ji Ki Sabhi Aartiyan in Hindi

।। श्री गणेश वंदना ।।
गजाननं भुतगनादिसेवितं कपित्थजम्बू फल चारू भक्षणं।
उमासुतं शोकविनाशकारकं नमामि विध्नेश्वरपादपंकजम।।
वर्णानामर्थसंघानाम रसानां छंदसामपि।
मंगलानाम च कर्तारौ वन्दे वाणीविनायकौ।।

।। श्री रामदेवोविजयतेतराम ।।
वन्देहंरुणिचारावंकृष्णचन्द्रस्वरुपिणाम ।
जाया नेतल भर्तार लोक पीड़ापहानणम ।।१।।
रामदेव जगन्नाथ, रुणिचाधिपते प्रभो ।
पहि दु:खाम्बुधेरस्मान भक्तानुग्रह कारक ।।२।।

।। श्री रामदेव वार्चन ।।
श्री रामदेव कृपालु भजमन, हरण भव भय दारुणम ।
अवतार धार उतार भार, आनंद धरणी कारणम ।।
कर्ण कुंडल हस्त भाल, गंध ललाट सुशोभितम ।
पीत पट गल-पुष्प माल, नील अश्वोरोहितम ।।
भव कष्ट तारण दलन-दानव, भक्त आनंद कारणम ।
संताप निवारण भैरव मारण, संत जनन उध्दारणम ।।
भक्त पाल नयना विशाल, उदार अंग विभूषणम ।
मैणादे नन्द आनंद कंद, क्लेश कष्ट विध्युषणम ।।
"विशव- महर्षि" वंदन नाथ, संत जनमन रंजनम ।
मम-हृदय नित्य निवास कुरु, देव अजमल नंदनम ।।

बाबा रामदेव जी की सभी आरतियाँ

श्री रामदेव जी की आरती Baba Ramdev Aarti Lyrics - 1

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी (बापजी) पधारिया आरती

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी (बापजी) पधारिया।
घर अजमल अवतार लियो।

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।
पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

गंगा जमुना बहे सरस्वती।
रामदेव बाबो स्नान करे।

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।
पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

घिरत मिठाई बाबा चढे थारे चूरमो
धूपारी महकार पङे

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।
पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

ढोल नगाङा बाबा नोबत बाजे
झालर री झणकार पङे

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।
पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

दूर-दूर सूं आवे थारे जातरो
दरगा आगे बाबा नीवण करे।

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।
पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

हरी सरणे भाटी हरजी बोले।
नवों रे खण्डों मे निसान घुरे।

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।
पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।


श्री रामदेव जी की आरती Baba Ramdev Aarti Lyrics - 2

ओउम जय श्री रामादे स्वामी आरती

ओउम जय श्री रामादे स्वामी जय श्री रामादे।
पिता तुम्हारे अजमल मैया मेनादे।। ओउम जय।।

रूप मनोहर जिसका घोड़े असवारी।
कर में सोहे भाला मुक्तामणि धारी।। ओउम जय।।

विष्णु रूप तुम स्वामी कलियुग अवतारी।
सुरनर मुनिजन ध्यावे जावे बलिहारी।। ओउम जय।।

दुख दलजी का तुमने भर में टारा।
सरजीवन भाण को तुमने कर डारा।। ओउम जय।।

नाव सेठ की तारी दानव को मारा।
पल में कीना तुमने सरवर को खारा।। ओउम जय।।


श्री रामदेव जी की आरती Baba Ramdev Aarti Lyrics - 3

जय श्री रामदेव अवतारी आरती

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
सतयुग में बाबा विष्‍णु बन आए, मधु-कटैभ को मार गिराये
ब्रह्मा जी को आप ऊबारो, देव श्री कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
त्रेता में बाबा राम बन आए, रावण को मार गिराये
महाबीर की आप उबारो, पुरूषोत्‍तम कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
द्वापर में बाबा कृष्‍ण बन आए, कंस को मार गिराये
सुदामा को आप उबारो, वासुदेव कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
कलयुग में बाबा रामदेव बन आए, भैरों-राकस को मार गिराये
बोहिता बनिए को आप उबारो, रामपीर कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
माता मैनादे पिता अजमाल जी, बाबा संग में डाली आये
देबो साबो पुत्र थारे, नेतली कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
श्री रामपीर की आरती, जो कोई नर गाये
जन्‍म-जन्‍म के कष्‍ट मिटे, भव सागर तर जाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
गरू नरसिंह पाण्‍डे शरणे – "बाबा", प्रकाश पाण्‍डे गाये
प्रेमनगर में मन्दिर तिहारा, गढ़ सिरसा कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।


श्री रामदेव जी की आरती Baba Ramdev Aarti Lyrics - 4

जय अजमल लाला आरती

जय अजमल लाला प्रभु, जय अजमल लाला ।।
भक्‍त काज कलयुग में लीनो अवतारा, जय अजमल लाल ।। 1

अश्‍वनकी अवसारी शोभीत केशरीया जामा ।
शीस तुर्रा हद शोभीत हाथ लीया भाला ।। जय 2

डुब्‍त जहाज तीराई भैरव दैत्‍य मारा ।
कृष्‍णकला भयभजन राम रूणेचा वाला ।। जय 3

अंधन को प्रभु नेत्र देत है सु संपती माया ।
कानन कुंडल झील मील गल पुष्‍पनमाल ।। जय 4

कोढी जय करूणा कर आवे होंय दुखीत काया ।
शरणागत प्रभु तोरी भक्‍तन सुन दाया ।। जय 5

आरती रामदेव जी की नर नारी गावे ।
कटे पाप जन्‍म-जन्‍म के मोंक्षां पद पावे ।। जय 6

जय अजमल लाला प्रभु, जय अजमल लाला ।
भक्‍त काज कलयुग में लीनो अवतारा, जय अजमल लाल ।। 7


पिछम धरा सू आरती Baba Ramdev Aarti Prakash Mali की आवाज में
Song : Picham Dhara Su Mhara Pirji Padhariya
Album : Khamma Khamma Runiche Ra Dhaniya
Singer : Prakash Mali
Lable : Shri Krishna Cassettes
Category : Devotional
Sub Category : Baba Ramdevji
Producer : Tarun Hassani
DIGITAL PARTNER : RDC MEDIA PVT LTD

Comments