Mata Shailputri Mantra माता शैलपुत्री के मंत्र

M Prajapat
0
Mata Shailputri Mantra माता शैलपुत्री के मंत्र

Mata Shailputri Mantra माता शैलपुत्री के मंत्र: मान्यता है कि माता शैलपुत्री की पूजा करने से व्यक्ति को सुख-समृद्धि और जीवन में सफलता प्राप्ति होती है। शास्त्रों के अनुसार माता शैलपुत्री चंद्रमा को दर्शाती हैं। कहा जाता है कि उनकी उपासना से चंद्रमा के सभी बुरे प्रभाव निष्क्रिय हो जाते हैं। पूजा के साथ ही मां शैलपुत्री के मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति को जीवन की सभी समस्याओं से मुक्ति मिलती है और जीवन में खुशियां ही खुशियां आती हैं।
माता शैलपुत्री के मंत्र इस प्रकार है -

माता शैलपुत्री के प्रभावशाली मंत्र

1- ऊँ देवी शैलपुत्र्यै नमः॥

2- या देवी सर्वभूतेषु माँ शैलपुत्री रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:॥

3- ॐ शं शैलपुत्री देव्यै: नम:। 

4- ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डाय विच्चे ॐ शैलपुत्री देव्यै नम:।

माता शैलपुत्री उपासना मंत्र

वन्दे वाञ्छितलाभाय चन्द्रार्धकृतशेखराम्।
वृषारुढां शूलधरां शैलपुत्रीं यशस्विनीम्॥

माता शैलपुत्री ध्यान मंत्र

वंदे वांच्छितलाभायाचंद्रार्धकृतशेखराम्।
वृषारूढांशूलधरांशैलपुत्रीयशस्विनीम्॥
पूणेंदुनिभांगौरी मूलाधार स्थितांप्रथम दुर्गा त्रिनेत्रा।
पटांबरपरिधानांरत्नकिरीटांनानालंकारभूषिता॥
प्रफुल्ल वदनांपल्लवाधरांकांतकपोलांतुंग कुचाम्।
कमनीयांलावण्यांस्मेरमुखीक्षीणमध्यांनितंबनीम्॥

माता शैलपुत्री स्तोत्र पाठ

प्रथम दुर्गा त्वंहि भवसागर: तारणीम्।
धन ऐश्वर्य दायिनी शैलपुत्री प्रणमाभ्यम्॥
त्रिलोजननी त्वंहि परमानंद प्रदीयमान्।
सौभाग्यरोग्य दायनी शैलपुत्री प्रणमाभ्यहम्॥
चराचरेश्वरी त्वंहि महामोह: विनाशिन।
मुक्ति भुक्ति दायनीं शैलपुत्री प्रणमाम्यहम्॥

माता शैलपुत्री कवच

ओमकार: में शिर: पातुमूलाधार निवासिनी।
हींकार,पातुललाटेबीजरूपामहेश्वरी॥
श्रीकार:पातुवदनेलज्जारूपामहेश्वरी।
हूंकार:पातुहृदयेतारिणी शक्ति स्वघृत॥
फट्कार:पातुसर्वागेसर्व सिद्धि फलप्रदा।

माता शैलपुत्री की आरती

माता शैलपुत्री के मंत्र का जाप कम से कम 108 होना चाहिए।

अगर आपको यह सभी मंत्र कठिन लगते हैं तो आप केवल इन दो मन्त्रों में से किसी एक मंत्र का जाप कर सकते हैं, 1- ऊँ देवी शैलपुत्र्यै नमः और ॐ शं शैलपुत्री देव्यै: नम: । 

माता शैलपुत्री का मंत्र लाभ
ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार, मां शैलपुत्री के मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति के जीवन में स्थिरता आती है, जिस प्रकार चंद्रमा दिखने में शांत रहता है उसी प्रकार जीवन में भी शांति आती है। माता शैलपुत्री के मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति को सभी समस्याओं से मुक्ति मिलती है। साथ ही इनकी पूजा और मंत्र जाप से चंद्रमा संबंधित दोष भी दूर हो जाते हैं। पूरी श्रद्धा भाव से मां शैलपुत्री की पूजा करने से मां भक्तों को सभी प्रकार के सुख और सौभाग्य का वरदान देती हैं। 

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)

#buttons=(Ok, Go it!) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Ok, Go it!