Shri Ganesh Aarti Lyrics श्री गणेश आरती

M Prajapat
0
Shri Ganesh Aarti Lyrics श्री गणेश आरती - सभी शुभ कार्यों में सबसे पहले पूजे जाने वाले देव हैं श्री गणेश। किसी भी दिन और किसी भी देवता की अगर पूजा करनी हो तो सबसे पहले गणेश जी को पूजा जाती है और गणेश जी आरती सबसे पहले की जाती है। रोज बुधवार को गणेश जी की आरती करने से आपके सभी कष्ट दूर होते हैं और जीवन में सफलता मिलती है। 

Shri Ganesh Aarti Lyrics 
श्री गणेश आरती

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

एक दंत दयावंत, चार भुजा धारी ।
माथे सिंदूर सोहे, मूसे की सवारी ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

पान चढ़े फल चढ़े, और चढ़े मेवा ।
लड्डुअन का भोग लगे, संत करें सेवा ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया ।
बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

'सूर' श्याम शरण आए, सफल कीजे सेवा ।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

दीनन की लाज रखो, शंभु सुतकारी ।
कामना को पूर्ण करो, जाऊं बलिहारी ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

Ganesh Aarti, JAI GANESH DEVA by Anuradha Paudwal with Hindi, English Lyrics

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)

#buttons=(Ok, Go it!) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Ok, Go it!