एक तमन्ना दादी है मेरी दिल में बसा लूँ सूरत तेरी लिरिक्स Ek Tamanna Dadi Meri Dil Main Basa Lu Surat Teri Lyrics

M Prajapat
0
एक तमन्ना दादी है मेरी दिल में बसा लूँ सूरत तेरी लिरिक्स Ek Tamanna Dadi Meri Dil Main Basa Lu Surat Teri Lyrics
एक तमन्ना दादी है मेरी दिल में बसा लूँ सूरत तेरी लिरिक्स Ek Tamanna Dadi Meri Dil Main Basa Lu Surat Teri Lyrics

एक तमन्ना दादी है मेरी दिल में बसा लूँ सूरत तेरी लिरिक्स

एक तमन्ना दादी है मेरी
दिल में बसा लूँ सूरत तेरी
हर पल उसी को निहारा करूँ
दादी दादी मुख से उचारा करूँ

रोज सवेरे उठ कर दादी
तुझको शीश नवाऊँ मैं
प्रेम भाव से भाँती भाँती का
नित श्रृंगार सजाऊँ मैं
हाथों से आरती उतारा करूँ
दादी दादी मुख से उचारा करूँ

इस तन से जो काम करू मैं
सब कुछ तुझको अर्पित हो
खाऊँ जो प्रसाद हो तेरा
पीऊं वो चरणामृत हो
आँखों से दर्शन तुम्हारा करूँ
दादी दादी मुख से उचारा करूँ

बिन्नू की विनती माँ तुमसे
इतनी किरपा कर देना
चरणो की सेवा मिल जाए
इससे बढ़कर क्या लेना
असुवन से इनको पखारा करूँ
दादी दादी मुख से उचारा करूँ

एक तमन्ना दादी है मेरी
दिल में बसा लूँ सूरत तेरी
हर पल उसी को निहारा करूँ
दादी दादी मुख से उचारा करूँ

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)

#buttons=(Ok, Go it!) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Ok, Go it!